वंदे मातरम गीत | Vande Mataram Lyrics PDF

राष्ट्रीय गीत India’s National Song (वंदे मातरम) PDF in Hindi Download

भारत का राष्ट्रगीत (National Song) वंदे मातरम बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय जी द्वारा लिखा गया. इस Song को बंगाली तथा संस्कृत दोनों भाषाओं में लिखा गया है. इसे 1882 में आनंदमठ नामक प्रसिद्ध नोबेल में पब्लिश किया गया. इस Rashtriya Geet को भवानंद ने अपनी मधुर आवाज दी, तथा इसकी ट्यून को Yadunath Bhattacharya द्वारा कंपोज किया गया.

स्वतंत्रता प्राप्त करने के बाद 24 जनवरी 1950 को Constituent असेंबली ने Vande Mataram को नेशनल सॉन्ग के रूप में डिक्लेअर किया. तब से लेकर आज तक प्रत्येक खास राष्ट्रीय उत्सव में राष्ट्रीय गीत को बोला जाता है.

इसे राष्ट्रगीत को बोलने में 65 सेकंड लगते हैं. भारत में सभी स्कूल कॉलेज में जब भी कोई प्रोग्राम का समापन होता है, तो अंत में Rashtriya Geet को बोला जाता है.

हालांकि यह देखा जाता है, कि Bankim Chandra Chatterjee द्वारा लिखे हुए इस गीत को बहुत लोग नहीं जानते हैं, क्योंकि यह संस्कृत भाषा में लिखा गया है. इसलिए उन सभी के लिए हमने संस्कृत तथा इंग्लिश दोनों भाषाओं में इस गीत को दिया है. जिसे आप आर्टिकल के नीचे पढ़ सकते हैं.

वंदे मातरम संस्कृत लिरिक्स

वन्दे मातरम्
सुजलां सुफलाम्
मलयजशीतलाम्
शस्यश्यामलाम्
मातरम्।

शुभ्रज्योत्स्नापुलकितयामिनीम्
फुल्लकुसुमितद्रुमदलशोभिनीम्
सुहासिनीं सुमधुर भाषिणीम्
सुखदां वरदां मातरम्।।

सप्त-कोटि-कण्ठ-कल-कल-निनाद-कराले
द्विसप्त-कोटि-भुजैर्धृत-खरकरवाले,
अबला केन मा एत बॅले
बहुबलधारिणीं
नमामि तारिणीं
रिपुदलवारिणीं
मातरम्।।

तुमि विद्या, तुमि धर्म
तुमि हृदि, तुमि मर्म
त्वम् हि प्राणा: शरीरे
बाहुते तुमि मा शक्ति,
हृदये तुमि मा भक्ति,
तोमारई प्रतिमा गडी मन्दिरे-मन्दिरे।।

त्वम् हि दुर्गा दशप्रहरणधारिणी
कमला कमलदलविहारिणी
वाणी विद्यादायिनी,
नमामि त्वाम्
नमामि कमलाम्
अमलां अतुलाम्
सुजलां सुफलाम्
मातरम्।।

वन्दे मातरम्
श्यामलाम् सरलाम्
सुस्मिताम् भूषिताम्
धरणीं भरणीं
मातरम्।।

Vande Mataram Short

vande mātaram
vande mātaram
sujalāṃ suphalāṃ
malayajaśītalām
śasyaśyāmalāṃ
mātaram
vande mātaram

śubhrajyotsnām
pulakitayāminīm
phullakusumita
drumadalaśobhinīm
suhāsinīṃ
sumadhura bhāṣiṇīm
sukhadāṃ varadāṃ
mātaram
vande mātaram

Download PDF Here

See More

सरस्वती प्रार्थनागायत्री मंत्र
सरस्वती वंदनाकल्याण मंत्र
शांति पाठ मंत्रवंदे मातरम गीत
स्नान मंत्रप्रातः स्मरण मंत्र
भोजन मंत्रदीप ज्योतिः मंत्र
श्री हनुमान चालीसा

Leave a Comment